Morning Star Candlestick Pattern In Hindi | बाजार में तेजी लाने वाला पैटर्न

इस लेख में हम आपको “morning star candlestick pattern in hindi” के बारे में विस्तार से बताएंगें। यह पैटर्न कहाँ देखने को मिलता है और कैसे काम करता है ये सब आपको detail में इस लेख में जानने को मिलेगा। वैसे तो कैंडलस्टिक पैटर्न कई तरह के होते हैं लेकिन मॉर्निंग स्टार एक ऐसा पैटर्न है जो काफी अच्छे से काम करता है। तो चलिए मॉर्निंग स्टार कैंडल के बारे में विस्तार से जानते हैं।


एक शुरुआत करने वाले को स्टॉक कब खरीदना चाहिए?



Morning Star Candlestick Pattern In Hindi – मॉर्निंग स्टार कैंडलस्टिक पैटर्न

यह मॉर्निंग स्टार एक तरह से trend reversal candle है। जो downtrend को uptrend में बदलने का काम करती है। मॉर्निंग स्टार candle पैटर्न तीन candle से मिलकर बनता है। कुछ लोग सोचते हैं कि मॉर्निंग स्टार एक single कैंडल होती है। लेकिन अगर आप इसे एक सिंगल कैंडल मान कर ट्रेड करेंगे तो आपको बेहतर नतीजे नहीं मिलेंगे। तो चलिए तस्वीर के माध्यम से जानते हैं मॉर्निंग स्टार कैंडल पैटर्न दिखता कैसा है।

morning star candlestick pattern

ऊपर दी गई इस तस्वीर में आप मॉर्निंग स्टार कैंडल पैटर्न को देख सकते हैं। मॉर्निंग स्टार से पहले एक red color कैंडल होनी चाहिए और red कैंडल के बाद एक छोटी रेंज वाली doji कैंडल और doji कैंडल के तुरंत बाद एक बड़ी green candle होनी अनिवार्य है। Doji कैंडल का कलर ग्रीन रेड कुछ भी हो सकता है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। अगर आपको चार्ट में ये कहीं पर भी दिखें तो आप उसे मॉर्निंग स्टार कैंडल पैटर्न मान सकते हैं।

दरअसल इस doji कैंडल को ही मॉर्निंग स्टार का नाम दिया गया है। लेकिन जैसा कि हमने आपको बताया मॉर्निंग स्टार को आप single कैंडल पैटर्न ना लेकर चलें। मॉर्निंग स्टार तीन कैंडल से बनता है और नतीजे भी बेहतर देता है।

Bullish Morning Star Candle Pattern Example

Bullish Morning Star
Bullish Morning Star

ऊपर तस्वीर में आप bullish मॉर्निंग स्टार पैटर्न को देख सकते हैं। बुलिश मॉर्निंग स्टार से पहले downtrend चल रहा था और जब downtrend खत्म होने को आया तो वहां पर हमें बुलिश मॉर्निंग स्टार देखने को मिला और ट्रेंड बदल गया। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मॉर्निंग स्टार को देखने से पहले आपको ये ध्यान रखना पड़ेगा कि वह सही मायने में मॉर्निंग स्टार है भी या नहीं। एक strong मॉर्निंग स्टार वही होगा जिसमें तीसरी यानि green कैंडल एक full body कैंडल होगी। यदि ग्रीन कैंडल में फुल बॉडी नहीं है और उसका साइज भी छोटा है तो वह मॉर्निंग स्टार नहीं माना जायेगा।

Wrong Morning Star Pattern – गलत मॉर्निंग स्टार पैटर्न

wrong morning star pattern
Wrong Morning Star Candle Pattern

ऊपर दी गई तस्वीर में आप यह देख सकते हैं कि गलत मॉर्निंग स्टार पैटर्न कैसा होता है। इस पूरे मॉर्निंग स्टार कैंडल पैटर्न में अहम रोल तीसरी कैंडल का होता है। यदि तीसरी कैंडल में फुल बॉडी नहीं है और उसमें sellers या buyers की रिजेक्शन है तो आप इस तरह के पैटर्न को ignore कर सकते हैं। क्यूंकि इस तरह के पैटर्न को अगर आप फॉलो करेंगे तो आपकी accuracy कम हो जाएगी।

How to trade Morning Star Candlestick – मॉर्निंग स्टार कैसे ट्रेड करें

मॉर्निंग स्टार कैंडल समझने के बाद अब बात आती है कि इस कैंडल पैटर्न को ट्रेड कैसे किया जाता है। इसको ट्रेड करने लिए सबसे पहले आप इतनी प्रैक्टिस कर लें ताकि आप चार्ट पर इसे आसानी से देख पाएं। कुछ लोग इस कैंडल पैटर्न को चार्ट पर ठीक से देख और समझ नहीं पाते। बिना प्रैक्टिस के इसे आप बिलकुल भी ट्रेड ना करें।

How to trade Morning Star

ऊपर तस्वीर में आप देख सकते हैं कि इस पैटर्न को कैसे trade किया जा सकता है। सबसे पहले तीसरी कैंडल के close होने का इंतजार करना होता है क्यूंकि उसकी closing से ही हमें पता चलता है कि पैटर्न strong है या नहीं। जैसे कि पैटर्न पूरा कम्पलीट हो जाए और तीसरी कैंडल एक full body कैंडल बन जाये तो उसके high break होने के बाद एंट्री प्लान की जा सकती है।

इसमें stop loss इस मॉर्निंग स्टार पैटर्न के नीचे रखा जाता है। अगर टारगेट की बात करें तो कम से कम दो गुना होना चाहिए और उसके बाद तीन गुना। अगर आपको support and resistance की अच्छी जानकारी और अनुभव है तो आप morning star कैंडल का अच्छे से इस्तेमाल कर पाएंगे।

Conclusion

इस लेख का निष्कर्ष यही है morning star candlestick pattern बताता है कि बाजार में तेजी आने की संभावना है। अगर इस लेख के निष्कर्ष की बात करें तो आपको सबसे पहले मॉर्निंग स्टार कैंडल को चार्ट पर देखना आना चाहिए। और इसके लिए आप जितनी चार्ट पर प्रैक्टिस करेंगे उतने ही परफेक्ट होते जायेंगे। बिना प्रैक्टिस किये आप किसी भी कैंडल पैटर्न को सही से इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।

आपने इस लेख से ये समझ तो लिया कि मॉर्निंग स्टार क्या होता है लेकिन सिर्फ कैंडल पैटर्न पता होने से काम नहीं चलेगा। सबसे पहले इस कैंडल पैटर्न के behaviour को समझने की कोशिश करें जो कि आपको ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करने से समझ आएगा। सब कुछ समझने के बाद ही आप इसको ट्रेड कर सकते हैं।

FAQs

मॉर्निंग स्टार पैटर्न की पहचान कैसे की जाती है?

मॉर्निंग स्टार downtrend खत्म होने के बाद बनता है। इसलिए चार्ट पर नजर बनाकर रखें और ज्यादा से ज्यादा इस पैटर्न की प्रैक्टिस करें।

स्ट्रांग मॉर्निंग स्टार कैंडल पैटर्न कहाँ देखना चाहिए?

एक स्ट्रांग मॉर्निंग स्टार्ट पैटर्न आपको स्ट्रांग सपोर्ट या फिर सपोर्ट के फेक ब्रेक डाउन पर देखने को मिलेगा।

स्टॉक मार्केट में मॉर्निंग स्टार क्या है?

मॉर्निंग स्टार एक बुलिश reversal कैंडल पैटर्न है जो downtrend को uptrend में बदलता है।

इसे मॉर्निंग स्टार कैंडलस्टिक क्यों कहा जाता है?

यह पैटर्न मंदी को तेजी में बदलने का काम करता है इसलिए इसे मॉर्निंग स्टार कहा जाता है

Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url