Stock Market Kya Hai | Stock मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

 दोस्तों Stockwale ब्लॉग में आप सभी का स्वागत है। इस लेख में हम आपको बताएँगे कि “Stock Market Kya Hai” और नए लोग “Stock मार्केट में शुरुआत कैसे करें?“। स्टॉक मार्केट में लोग रूचि तो रखते हैं लेकिन सही ज्ञान ना होना और कैसे शुरुआत करनी है इसके बारे में नहीं जानते। इस लेख को आप पूरा ध्यान से और मन लगाकर पढ़ें क्यूंकि अधूरे ज्ञान से कोई फायदा होने वाला नहीं है। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं कि स्टॉक मार्किट क्या है।

Stock Market Kya Hai

Stock Market Kya Hai

Exchange के जरिये listed कंपनियों के शेयर्स की खरीद और बिक्री को स्टॉक मार्केट कहा जाता है। यदि कोई व्यक्ति आपको ये कहता है कि वह स्टॉक मार्केट में काम करता है तो इसका अर्थ है वो व्यक्ति एक्सचेंज के माध्यम से कंपनी के शेयर को खरीदने बेचने का काम करता है। भारत में दो सबसे बड़ी एक्सचेंज NSE (national stock exchange) और BSE (bombay stock exchange) हैं जहाँ आप listed कंपनियों के शेयर्स की खरीद या बिक्री कर सकते हैं।

अगर आपको सरल भाषा में स्टॉक मार्केट के बारे में जानना है तो इसका सीधा सा जवाब है आप किसी ऐसे बिज़नेस में अपना पैसा निवेश करते हैं जो पिछले कुछ सालों से अच्छा परफॉर्म कर रहा हो। उदाहरण के लिए मान लीजिये मुकेश अम्बानी रिलायंस कंपनी को काफी सालों से चला रहे हैं। अगर आपको लगता है रिलायंस आने वाले समय में और अच्छा बिजनेस करेगी तो आप रिलायंस कंपनी के शेयर्स खरीद कर भागीदारी ले सकते हैं।

जब आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते हैं तो आप उस कंपनी के हर घाटे और मुनाफे दोनों के भागीदार होते हैं। कंपनी अच्छा करेगी तो शेयर्स के दाम बढ़ने से आपको मुनाफा होगा और कंपनी काम अच्छा नहीं करेगी तो आपको शेयर्स के दाम गिरने से नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। बस यही स्टॉक मार्केट है स्टॉक एक्सचेंज में बहुत सी अलग-अलग sector की कंपनियां listed होती हैं जहाँ आप invest या trading करके पैसा कमा सकते हैं।

स्टॉक मार्किट को SEBI(Securities and Exchange Board of India) द्वारा नियंत्रित किया जाता है। निवेशकों के हितों की रक्षा करना SEBI का काम होता है। बिना सेबी की मंजूरी के स्टॉक मार्किट में पत्ता भी नहीं हिल सकता। यानि आपको बिलकुल घबराने की जरूरत नहीं है क्यूंकि SEBI एक भारत सरकार की वैधानिक संस्था है।

अब आप सोच रहे होंगे कि स्टॉक एक्सचेंज में कंपनियों को कैसे लिस्ट किया जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यदि कोई कंपनी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट होना चाहत्ती है तो उसे पहले अपने पूरे दस्तावेज सेबी को सौंपने पड़ते हैं। सेबी इन सभी दस्तावेजों के आधार पर approval देती है और IPO(Initial public offering) के जरिये कंपनी स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट हो सकती है।

इसी तरह कंपनियों को अंदर बाहर करने का कार्य SEBI के फैंसले द्वारा होता रहता है। जो कंपनियां कुछ घोटाला या गड़बड़ करती है उन्हें स्टॉक एक्सचेंज से बाहर भी सेबी द्वारा ही किया जाता है।

Stock मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

अब अपने स्टॉक मार्किट के बारे में तो जान लिया लेकिन आपको शुरुआत कैसे करनी है ये सबसे बड़ा सवाल है। तो चलिए आपको हम बिलकुल basic चीजों से बताते हैं कि आपको स्टॉक मार्किट में सबसे पहले क्या सीखना चाहिए। यदि आप स्टॉक मार्किट में काम करने के इच्छुक हैं तो आपको technical analysis और fundamental analysis सीखनी होगी। इन दोनों के मायने और काम अलग है।

Technical Analysis – चार्ट रीडिंग सीखें

यदि आप स्टॉक मार्किट सीखना चाहते हैं तो आपको टेक्निकल एनालिसिस पर पूरी मेहनत करनी पड़ेगी। बिना टेक्निकल एनालिसिस सीखे आप स्टॉक मार्किट में ट्रेडिंग नहीं कर सकते। टेक्निकल एनालिसिस के अंदर बहुत सी चीजें सीखने की होती है। आपको क्या सीखना चाहिए चलिए जानते हैं।

Candlestick Patterns – स्टॉक मार्किट में शुरुआत सबसे पहले basic candlestick से ही होती है। कैंडलस्टिक चार्ट सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। Candlestick से आप price के behaviour को समझ सकते हैं। चार्ट पर अलग-अलग तरह के कैंडल पैटर्न्स बनते हैं और सभी का अपना-अपना महत्व होता है। आपको सभी कैंडल पैटर्न को सीखने में मेहनत करनी होगी।

Doji Candlestick Example
Doji Candlestick Example

Support and Resistance – टेक्निकल एनालिसिस के अंदर सपोर्ट और रेजिस्टेंस का बहुत महत्व होता है। क्यूंकि सपोर्ट और रेजिस्टेंस ही आपको बताते हैं कि आपको किसी स्टॉक को किस भाव पर खरीदना या बेचना है।

Support Example
Support Example

Price Action – यह किसी भी स्टॉक में चल रहे uptrend या downtrend को पता करने में काम आता है। सभी स्टॉक या इंडेक्स प्राइस एक्शन को ही फॉलो करते हैं। प्राइस एक्शन सीखने से आप ट्रेंड को पकड़ने में सक्षम हो जायेंगे।

Price action structure example
Price action structure example

Trendlines – टेक्निकल एनालिसिस में अगर आप trendline सीख गए तो आप ट्रेडिंग में काफी बेहतर कर पाएंगे। Trendlines को यदि प्राइस एक्शन और सपोर्ट रेजिस्टेंस के साथ इस्तेमाल करना सीख लिया जाये तो आप एक अच्छे ट्रेडर बन सकते हैं।

Trendline Example
Trendline Example

Chart Patterns – टेक्निकल एनालिसिस में इनका भी काफी महत्व होता है। चार्ट पैटर्न्स सीखने से आप जान सकते हैं कि किसी स्टॉक में तेजी आने वाली है या फिर मंदी। चार्ट पैटर्न्स में W patternM pattern और head and shoulder काफी ज्यादा इस्तेमाल किये जाते हैं।

W PATTERN EXAMPLE (CHART PATTERN)
W PATTERN EXAMPLE (CHART PATTERN)

टेक्निकल एनालिसिस में ऊपर बताई गई इन सभी चीजों को सीख सकते हैं। अगर आप इनमें माहिर हो जाते हैं तो आप स्टॉक मार्किट में एक कामयाब ट्रेडर बन सकते हैं। टेक्निकल एनालिसिस सीखने के लिए आप हमारे ब्लॉग को रोजाना देख सकते हैं।

फंडामेंटल एनालिसिस में एक्सपर्ट बनें

यदि आप केवल कंपनी की वित्तीय स्तिथि और balance sheet को देखकर उसमें निवेश करना चाहते हैं तो आप fundamental analysis सीख सकते हैं। जो लोग एकाउंट्स में रूचि रखते हैं और कंपनी की वैल्यूएशन के आधार पर निवेश करना पसंद करते हैं वो लोग फंडामेंटल एनालिसिस पर ज्यादा ध्यान देते हैं । आपको बेसिक फंडामेंटल एनालिसिस आनी ही चाहिए क्यूंकि टेक्निकल और फंडामेंटल दोनों की जानकारी होने से आप सफल निवेशक बन सकते हैं।

EPS (Earning per share) – अगर आप फंडामेंटल एनालिसिस सीख रहे हैं तो आपको EPS की जानकारी होना जरूरी है। क्यूंकि यह बताता है की प्रति शेयर आपको सालाना कितना प्रॉफिट होने की संभावना है।

Dividend Yield – अगर कोई कंपनी अच्छा मुनाफा कमा रही है तो वो अपने मुनाफे में कितना dividend देती है। ये जानना भी आपके लिए बहुत जरूरी है।

Quarterly Results – जिस कंपनी की आप फंडामेंटल एनालिसिस करना चाहते हैं उसके बारे में यह पता होना जरूरी है कि वह कंपनी हर तिमाही में कितना प्रॉफिट या लॉस कर रही है। इस से आपको उसकी ग्रोथ के बारे में जानकारी मिलेगी।

Screener Quarterly Results Example
Screener Quarterly Results Example

Profit & Loss Statements – फंडामेंटल एनालिसिस में कंपनी की प्रॉफिट और लॉस की स्टेटमेंट की जानकारी होना जरूरी है। इससे आपको पता लगेगा कि कंपनी सालाना कितना profit करती है और उसका net profit कितना होता है।

Balance Sheet – इसमें कंपनी का पूरा लेखा जोखा होता है। कंपनी के ऊपर कितना कर्ज है, कंपनी पैसे को कहाँ-कहाँ निवेश करती है और कंपनी के पास कितने assets हैं। बैलेंस शीट की अच्छी जानकारी होने से आप किसी भी कंपनी की ग्रोथ उसके भविष्य, और उसकी valuation के बारे में जान सकते हैं।

Basic फंडामेंटल एनालिसिस के लिए आपको ऊपर दी गई सभी चीजों की जानकारी होना जरूरी है। फंडामेंटल एनालिसिस सीखने से आपको ये पता लगता है कि कोई कपंनी निवेश करने लायक है भी या नहीं।

Stock Market कहाँ से सीखें?

हमने आपको ये तो बता दिया कि स्टॉक मार्किट में कैसे शुरुआत करनी है और क्या सीखना जरूरी है। अब आपको ये जानना है कि स्टॉक मार्किट कहाँ से सीखनी चाहिए। तो चलिए जानते हैं स्टॉक मार्किट सीखने के सही रास्ते क्या हैं।

Self Study – ये जरूरी नहीं कि आपको स्टॉक मार्किट कोई दूसरा ही सीखा सकता है। अगर आप मार्केट को समय दे सकते हैं तो आप जितना हो सके live market में समय बिताएं। यदि आप हर रोज मार्केट को कम से कम 3 घंटे दे सकते हैं तो यकीन मानिये 6 महीने में आप खुद चीजों को समझ जायेंगे और स्टॉक मार्केट में आप सफल हो सकेंगे। आपको सिर्फ paper trade करनी है और अपनी एक डायरी में हर रोज की सीखी हुई चीज लिखनी है।

Learn from successful traders – स्टॉक मार्केट में जिन लोगों ने कामयाबी हासिल की है आप उनसे सीखने की कोशिश करें। यदि आपकी जानकारी में कोई व्यक्ति स्टॉक मार्केट में काम करता है तो आप उनसे भी सीख सकते हैं। स्टॉक मार्केट में राकेश झुनझुनवाला, warren buffet कई दिग्गजों के बारे में पढ़ सकते हैं कि उन्होंने कैसे अपने करियर की शुरुआत की और कामयाब ट्रेडर बने। यूट्यूब पर भी कुछ कामयाब ट्रेडर्स हैं जो स्टॉक मार्केट सिखाते हैं आप उनसे भी सीख सकते है।

आप जितना समय मार्केट को देंगे आप उतने ही एक्सपर्ट होते चले जायेंगे। अगर आप मेरी पूछें तो मैंने स्टॉक मार्केट में नुकसान कर-करके ही सीखा है। जो आपको मार्केट सिखाएगी वो आपको कोई नहीं सीखा सकता। इस लेख के बाद आप शेयर बाजार के फायदे और नुकसान दोनों के बारे में जरूर जान लें और बेहतर फैंसला लें।

Conclusion

इस लेख में हमने आपको स्टॉक मार्किट के बारे में बताया और आप कैसे स्टॉक मार्किट में शुरुआत कर सकते हैं। इस लेख का निष्कर्ष यही है कि बिना टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस सीखे आप स्टॉक मार्किट में कामयाबी नहीं पा सकते। जब तक आप स्टॉक मार्किट को समय नहीं दोगे तब तक आपको मार्किट बिलकुल भी समझ नहीं आएगी।

जिस तरह डॉक्टर बनने के लिए आपको पहले डॉक्टर की डिग्री और उसके बाद काफी प्रैक्टिस करनी पड़ती है तब जाकर डॉक्टर बना जाता है। उसी तरह स्टॉक मार्किट में शुरुआत करने के लिए आपको पहले स्टॉक मार्किट सीखनी होगी फिर उसकी कुछ महीनों के लिए प्रैक्टिस करनी होगी। जो बिना सीखे स्टॉक मार्किट में निवेश करते हैं उन्हें केवल निराशा ही मिलती है।

FAQs

Stock मार्केट में शुरुआत कैसे करें?

Technical analysis और fundamental analysis सीख कर आप स्टॉक मार्किट में काम काज शुरू कर सकते हैं।

1 दिन में शेयर बाजार में कितना पैसा कमा सकते हैं?

यह आपके ज्ञान और आपके capital पर निर्भर करता है। शेयर बाजार में लोग 1 दिन में 1 हजार से लेकर 1 करोड़ तक कमा रहे हैं।

Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url