Tweezer Top Candlestick Pattern in Hindi | A to Z पूरी जानकारी

Tweezer टॉप कैंडलस्टिक एक ट्रेंड रिवर्सल कैंडलस्टिक पैटर्न है। इस लेख में आपको “Tweezer Top Candlestick Pattern in Hindi” के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी। जब बाजार अपट्रेंड में होता है तो किसी रेजिस्टेंस के पास पहुँच कर बराबर हाई लगाता है तो वह Tweezer टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न बन जाता है। ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न चार्ट पर बनने का अर्थ है कि वहां से भाव नीचे आ सकता है और पूरा अपट्रेंड भी डाउन ट्रेंड में बदल सकता है।

Tweezer Top Candlestick Pattern in Hindi


Tweezer Top Candlestick Pattern क्या होता है

जैसा कि आप नाम से ही समझ सकते हैं ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न यानि एक ऐसा कैंडल पैटर्न जो आपको बताता है कि अब टॉप लग गया है और यहाँ से स्टॉक का भाव नीचे आ सकता है। आप उसे ट्वीज़र टॉप पैटर्न मान सकते हैं जहाँ पर आपको एक बड़ी ग्रीन कैंडल दिखाई दे और उसके तुरंत बाद एक रेड कैंडल बने। याद रखें ग्रीन कैंडल और रेड कैंडल दोनों का हाई बराबर होना चाहिए। दोनों का हाई बराबर होगा तभी वह ट्वीज़र टॉप पैटर्न माना जायेगा।

Twizzer Top Candlestick Pattern
Twizzer Top Candlestick Pattern

ऊपर तस्वीर में आ देख सकते हैं कि ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न कैसा दिखाई देता है। आप देख सकते हैं कि रेड कैंडल और ग्रीन कैंडल दोनों का हाई बिलकुल बराबर होना चाहिए। यह कैंडलस्टिक पैटर्न आपको चार्ट पर बहुत कम देखने को मिलेगा। इसे चार्ट पर देखना बड़ा मुश्किल काम होता है। लेकिन अगर आप इसे चार्ट पर देखने की प्रैक्टिस करेंगे तो आपके लिए यह आसान काम होगा। जब भी यह पैटर्न चार्ट पर बनता है तो वहां से अच्छी गिरावट आपको देखने को मिल सकती है।

ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न कई तरिके से चार्ट पर बनते रहते हैं। कभी-कभी आपको ऐसा ट्वीज़र टॉप भी देखने को मिलेगा जिसमें ग्रीन कैंडल की क्लोजिंग प्राइस ही उसका हाई होगी और अगली रेड कैंडल उस हाई को तोड़े बिना वहीं से ओपन होगी। बस आपको इस बात से मतलब होना चाहिए कि ट्वीज़र टॉप किसी भी तरिके से बने केवल बराबर हाई होने जरूरी हैं।

Tweezer Top Candlestick Pattern Psychology

तो चलिए अब जानते हैं कि ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न चार्ट पर क्यों बनता है और इसके पीछे का लॉजिक और साइकोलॉजी क्या है। ट्वीज़र टॉप चार्ट पर बनने का मतलब होता है कि तुरंत मार्केट में इतने सेलिंग ऑर्डर्स आना कि प्राइस पिछली कैंडल के हाई को तोड़ ना पाए। जब भी मार्केट में बड़े सेलिंग आर्डर आते हैं तो इसके पीछे बड़े प्लेयर्स की बड़ी quantity होती है।

जब भी बड़े प्लेयर्स यानि जिनके पास बड़ा कैपिटल होता है वे लोग जब भी सेलिंग करते हैं तो उनकी quantity अधिक होने के कारण प्राइस वहां बिना रुके तेजी से गिरता है। जाहिर सी बात है अगर 100 रूपए के भाव पर किसी ने ज्यादा सेलिंग आर्डर लगाए हैं तो भाव वहां से बिना पिछली कैंडल का हाई तोड़े बुरी तरह से गिर सकता है। ऐसी स्तिथि में ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न चार्ट पर बनते नजर आते हैं।

Twizzer Top Candlestick Pattern Example
Twizzer Top Candlestick Pattern Example

ऊपर उदाहरण में आप देख सकते हैं कि ट्वीज़र टॉप पैटर्न जब बनता है तो क्या होता है। यह कैंडलस्टिक पैटर्न चार्ट पर इतनी आसानी से नजर नहीं आता और ना ही ये ज्यादा बार चार्ट पर देखने को मिलता है। लेकिन इसका इफेक्ट बहुत बड़ा होता है। अगर आप चार्ट को ध्यान से देखें तो यह ट्वीज़र टॉप के साथ फेक ब्रेकआउट भी था। यदि आप ट्वीज़र टॉप के साथ अन्य चीजों जैसे रेजिस्टेंस इत्यादि को भी देखेंगे तो नजीते और भी बेहतर मिलेंगे।

क्या Tweezer Top Candlestick Pattern पर Trade ले सकते हैं?

जी हाँ ट्वीज़र टॉप पैटर्न को ट्रेड किया जा सकता है और बहुत से ट्रेडर्स इस पैटर्न को काफी पसंद करते हैं। जब भी ट्वीज़र टॉप पैटर्न बनता है तो रेड कैंडल के बनने के बाद जब रेड कैंडल का लौ ब्रेक होता है तब एंट्री प्लान की जाती है और स्टॉप लॉस हमेशा ट्वीज़र टॉप का जो हाई होता है उसके थोड़ा ऊपर रखा जाता है और टारगेट कम से कम दोगुना या तीनगुना रखा जाता है।

Twizzer Top Candlestick Trade Example

ऊपर उदाहरण में आप देख सकते हैं कि ट्वीज़र टॉप पैटर्न के बनने के बाद इसे कैसे ट्रेड किया जा सकता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कैंडलस्टिक को ट्रेड करने का तरीका सभी का अलग-अलग होता है। क्यूंकि सभी एक स्टॉप लॉस के साथ ट्रेड करते हैं और कौन कितना स्टॉप लॉस लेने में सक्षम है यह केवल ट्रेड करने वाले को ही पता होता है। हमने आपको इस लेख के जरिये केवल ट्वीज़र टॉप की जानकारी दी है आप अपने अनुसार इतने फेरबदल करके ट्रेड कर सकते हैं।

यदि आप ट्वीज़र टॉप को ट्रेड करना चाहते हैं तो सबसे पहले इसका बैकटेस्ट करें और इस केवल अकेला ट्रेड मत करें। आप कैंडलस्टिक पैटर्न से कन्फर्मेशन लेकर अपना दूसरा सिस्टम भी ट्रेड कर सकते हैं। यदि आप प्राइस एक्शन, ट्रेंड लाइन, सपोर्ट रेजिस्टेंस में माहिर हैं तो कोई भी कैंडलस्टिक पैटर्न आप इस्तेमाल करें आपको अच्छे नतीजे ही मिलेंगे।

Tweezer Top Candlestick की जरूरी बातें

Twizzer Top No Uppar Wick

ऊपर तस्वीर में आप देख सकते हैं कि ग्रीन कैंडल के ऊपर कोई विक नहीं है और रेड कैंडल की भी कोई विक नहीं है। लेकिन दोनों का हाई बिलकुल बराबर है। रेड कैंडल ने ग्रीन कैंडल के हाई को नहीं तोडा और ग्रीन कैंडल जहाँ से ओपन होती थी वहां जाकर क्लोज हुई। यह भी ट्वीज़र टॉप पैटर्न है। अगर दोनों कैंडल के ऊपर विक होगी तो भी वह ट्वीज़र टॉप होगा लेकिन दोनों का हाई बराबर होना अनिवार्य है।

  • ट्वीज़र टॉप कैंडलस्टिक पैटर्न चार्ट पर बहुत कम बनते हैं।
  • केवल ट्वीज़र टॉप को देखकर ट्रेड ना करें। इसके साथ अन्य चीजें भी देखें या फिर ट्वीज़र टॉप को केवल ट्रेंड कन्फर्मेशन के लिए इस्तेमाल करें।
  • ट्वीज़र टॉप यदि ब्रेकआउट के बाद बने तो ज़्याफ़ा बेहतर नतीजे दे सकता है।
  • केवल ट्वीज़र टॉप के भरोसे ना बैठें क्यूंकि हो सकता है आपको कई दिन तक ट्रेड ना मिले।
  • ट्वीज़र टॉप को देखने के लिए जल्दबाज़ी बिलकुल ना करें। क्यूंकि कभी-कभी मार्केट में प्राइस एडजस्ट होते रहते हैं। ट्वीज़र टॉप बनने के बाद एक बार चार्ट को रिफ्रेश करके भी देखें।

Conclusion

इस लेख का निष्कर्ष यही है कि ट्वीज़र टॉप एक ट्रेंड रिवर्सल कैंडलस्टिक पैटर्न है जो अपट्रेंड पर लगाम लगाकर ट्रेंड बदलने का काम करती है। जब भी चार्ट पर स्ट्रांग ट्वीज़र टॉप बनता है तो भाव काफी लम्बे समय के लिए करेक्शन कर सकता है। हमेशा कैंडलस्टिक की बैकटेस्ट जरूर करें ताकि आपको पता रहे कि आपकी स्ट्रेटेजी कैसा काम कर रही है।

Disclaimer: यह लेख केवल शिक्षा के उद्देश्य से है। इस ब्लॉग में बताई गई किसी भी तरह की स्ट्रेटेजी की एक्यूरेसी की गारंटी हम नहीं लेते। किसी भी स्ट्रेटेजी को इस्तेमाल करने से पहले उसका पूरा बैकटेस्ट करें और अपने जोखिम को ध्यान में रखकर ही ट्रेड करें।

Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url